Home समाज शहीद श्री हरिकिशन कांसनिया की मूर्ति का अनावरण

शहीद श्री हरिकिशन कांसनिया की मूर्ति का अनावरण

53
0
Google search engine

वीर सपूत का बलिदान युवाओं के लिए प्रेरणादायक- वासुदेव देवनानी
देश के लिए जीये, राष्ट्र प्रथम की भावना से कार्य करें

जयपुर, दिव्यराष्ट्र/ राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष वासुदेव देवनानी ने कहा है कि वीर- वीरांगनाओं के त्याग व समर्पण से देश सुरक्षित है। इस गर्मी में 55 डिग्री सेल्सियस तापमान पर राष्ट्र की सीमाओं की रक्षा करने वाले वीरों के चरणों को हम सभी नमन करते हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्र भक्त, राष्ट्र रक्षक, मातृभूमि पर प्राण न्यौछावर करने वाले वीर सपूत हरिकिशन कांसनिया की शहादत को कभी भुलाया नही जा सकता है। उनका अमूल्य बलिदान प्रत्येक युवा के लिए प्रेरणादायक है।

देवनानी मंगलवार को नागौर जिले की सांजू तहसील के जैतपुरा कलां गांव में अमर शहीद हरिकिशन कासनिया की मूर्ति अनावरण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। देवनानी ने शहीद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर नमन किया। विधान सभा अध्यक्ष देवनानी ने शहीद के पिता छोटूराम, माता मूली देवी और वीरांगना मंजू गोदारा का सम्मान किया। इस अवसर पर नागौर जिले की वीरांगनाओं का भी सम्मान किया गया।

मन को छूने वाले पल देवनानी ने कहा कि आज का यह अवसर मन को छूने वाले पल है। वीर शहीद की प्रथम पुण्य तिथि पर चिलचिलाती धूप में लोगों के अपार समूह ने इस वीर भूमि पर आकर कांसनिया को श्रद्धाजंलि दी है, यह राष्ट्र सेवा की भावना है। अमर शहीद का बलिदान और उनके परिवार के त्याग को यह राष्ट्र सदैव याद रखेगा। शहीद की मूर्ति सदेव लोगों को राष्ट्र सेवा के प्रेरणा देती रहेगी।

देश के लिए जीये देवनानी ने समारोह में उपस्थित लोगों का आव्हान किया कि वे देश के लिए जीये। ‘राष्ट्र प्रथम’ की भावना के साथ कार्य करें। राष्ट्र सेवा, देश के प्रत्येक व्यक्ति का कर्तव्य है।

महापुरुषों को नमन- देवनानी ने लोक देवता वीर तेजाजी की भूमि को नमन करते हुए मीरा बाई और अमर सिंह राठौड का भी स्मरण किया। उन्होंने शहीद भगत सिंह और वीर सावरकर को याद किया। गीता के श्लोक का उच्चारण करते हुए देवनानी ने कहा कि आत्मा को न कोई शस्त्र काट सकते है, न ही अग्नि जला सकती है, न ही जल गीला कर सकता है और ना ही वायु सुखा सकती है। देवनानी ने कहा कि कैर सांगरी की भूमि नागौर की संस्कृति में राष्ट्र सेवा रची-बसी हुई है। इस अवसर पर 67 आम्र्ड रेजीमेन्ट के अधिकारी भी मौजूद रहे। मेडता विधायक लक्ष्मण ने समारोह को सम्बोधित किया। महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्ववि‌द्यालय अजमेर के छात्र संघ अध्यक्ष महिपाल गोदारा के संयोजन में आयोजित कार्यक्रम को प्रधान मदन गोरा, डेगाना प्रधान सुनिता चौयल, जगवीर छाबा, रामेश्वर छाबा व सुखराम ने भी सम्बोधित किया। सरपंच किशन ने आभार ज्ञापित किया।

देवनानी दिल्ली जायेंगे- राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष श्री वासुदेव देवनानी एक दिवसीय यात्रा पर बुधवार को दिल्ली जायेंगे। देवनानी दिल्ली में कान्स्ट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित कान्स्ट्यूशन क्लब की बैठक में भाग लेगे। देवनानी का बुधवार रात्रि को वापिस आने का कार्यक्रम है।

विधानसभा जनदर्शन – राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष वासुदेव देवनानी की पहल पर शुरु हुए विधानसभा जनदर्शन कार्यक्रम के तहत मंगलवार को जामडोली स्थित केशव विद्यापीठ विद्यालय के छात्रों ने विधानसभा देखी। छात्रों ने राजनैतिक आख्यान संग्रहालय, सदन और विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय का अवलोकन किया।

विधानसभा अधिकारियों का अभिविन्यास कार्यक्रम विधानसभा में अधिकारियों का दो दिवसीय अभिविन्यास कार्यक्रम का समापन मंगलवार को हुआ। मंगलवार को सुश्री सिमरनज्योत कौर ने राज्य विधानमंडलों की श्रेष्ठ परम्पराओं की जानकारी दी। राष्ट्रीय अनूसूचित जनजाति आयोग की निदेशक श्रीमती मिरांडा इंगुडम ने विशेषाधिकार के अनुपालन में विधानसभाओं की भूमिका विषय पर विभिन्न बिन्दुओं की व्याख्या की। विधानसभा के उप सचिव (प्रशासन) श्री संजीव शर्मा ने विषय विशेषज्ञों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर आभार ज्ञापित किया।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here