Home बिजनेस मारवाड़ी कैटलिस्ट के फंड को सेबी से मंजूरी मिली

मारवाड़ी कैटलिस्ट के फंड को सेबी से मंजूरी मिली

47
0
Google search engine

जयपुर: स्टार्टअप एक्सेलेरटेर मारवाड़ी कैटलिस्ट्स जो कि भारत के टियर 2- टियर 3 शहरों में उद्यमशीलता की भावना को जाग्रत कर रहा है ने अपने पहले अल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट फंड एआईएफ कैट  1 (AIF CAT 1)  ऐंजल फंड के लिये सेबी से स्वीकृति हासिल कर ली है।

300 स्टार्टअप्स को समर्थन देने के लिये समर्पित 100 करोड़ रूपये के फंड के साथ मारवाड़ी कैटालिस्ट्स एमकैट्स (MCats), ने 9000 से ज्यादा स्टार्टअप्स का मूल्यांकन कर उसमें से 80 से अधिक स्टार्टअप्स का एक प्रभावशाली फोर्टफोलियों बनाया है और इनमें से 8 ने महत्वपूर्ण तरक्की हासिल की है।

“हम राजस्थान का पहला एआईएफ कैट  1 (AIF CAT 1) फंड लॉन्च करके रोमांचित हैं, जो हमारे क्षेत्र में नवाचार और उद्यमिता को बढ़ावा देने में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह पहल स्टार्टअप्स को आगे बढ़ने के लिए आवश्यक मार्गदर्शन, कनेक्शन और संसाधन प्रदान करने की हमारी प्रतिबद्धता को उजागर करती है। इस परिवर्तनकारी यात्रा में हमारे साथ जुड़ें है।” – मारवाड़ी कैटालिस्ट्स के संस्थापक और सीईओ सुशील शर्मा ने कहा ।

एक्सेलेरेटर 100 से अधिक सह- संस्थापकों का क्लब हैं और इसका मुख्यालय जोधपुर में है, जिसके क्षेत्रीय कार्यालय मुंबई हेड- निखिल गुप्ता, बैंगलोर हेड- अनिल छिकारा, जयपुर हेड- अनीश थॉमस और दिल्ली में हैं। टर्म्स (TURMS), जयपुर वॉच कंपनी, होबिट, क्लाइमकेयर, इंश्योरेंस पड़ोसी, बैंक साथी, ज़ोवर्ल्ड, रेवोक्वेंट, एक्सेलरेट इंडिया, ईयरबुक कैनवस, मोब (MOB) और यूसीआर (UCR) जैसे गेम-चेंजिंग स्टार्टअप के साथ 8 सफल कोहोर्ट आयोजित कर चुका  एमकैट्स (MCats), एक अग्रणी स्टार्टअप एक्सेलेरेटर नवाचार को आगे बढ़ा रहा है। इसके 4 पोर्टफोलियो संस्थापक शार्क टैंक पर आ चुके हैं।

हमने 50 गुना वृद्धि का स्वाद चखा है और 10 गुना वृद्धि का जश्न मनाया है। ये स्टार्टअप, सामूहिक रूप से 500 करोड़ से ज्यादा का राजस्व उत्पन्न कर रहे हैं, 2000 से अधिक लोगों को रोजगार दे रहे हैं, और 350 करोड़ से ज्यादा का फंड जुटा रहे हैं, उद्योगों में क्रांति ला रहे हैं और समृद्ध भविष्य का मार्ग प्रशस्त कर रहे हैं। इन सलाहकारों के दृष्टिकोण के कारण हमने निवेशकों के लिए एक भरोसेमंद भागीदार के रूप में उभर कर सामने आ रहे है।

उनका आगामी प्रमुख कार्यक्रम, स्टार्टअप एक्सचेंज, मुंबई, बैंगलोर, दिल्ली और जोधपुर जैसे प्रमुख शहरों में आयोजित चार डेमो डे की सुविधा प्रदान करेगा। एआईएफ (AIF) से अलग, एमकैट्स (MCats) पारिवारिक निधियों, फैमिली ऑफिस और एक शक्तिशाली नेटवर्क के साथ मजबूत जुड़ाव का दावा करता है जो सेलिब्रिटी सह-निवेशकों तक फैला हुआ है। विशेष रूप से फिनटेक, रिलिजनटेक, स्पोर्ट्सटेक और गेमिंग, एआर/वीआर, डी2सी (AR/VR, D2C), आयुर्वेद, एंटरप्राइज़ एआई (AI), मीडियाटेक और एंटरटेनमेंट, प्रॉपटेक, डिफेंसटेक, बायोटेक, फ़ूड और एग्रीटेक, क्लाइमेट चेंज, हेल्थकेयर, सप्लाईचेन लॉजिस्टिक्स और यहां तक कि स्पेसटेक सहित विभिन्न उद्योगों में स्टार्टअप को पोषित और सशक्त बनाने के लिए।

सेलिब्रिटी सह-निवेशकों अमित जैन (कार देखो); वीरेंद्र गुप्ता (डेली हंट) डॉ. कुमार विश्वास, प्रसिद्ध कवि; कैलाश खेर, कुणाल शाह(CRED) और अजहर इकबाल (इनशॉर्ट्स), के साथ साथ कुछ कंपनियों मे एमकैट्स (MCats) ने सहनिवेश कर,के साथ अपनी  गहरी प्रतिबद्धता एवं पकड़ दिखाई है।

“सीरियल उद्यमी और एंजेल निवेशक के रूप में, हम नवाचार की पारदर्शिता और परिवर्तनकारी शक्ति में दृढ़ विश्वास रखते हैं,” नितिन सेठी, संयुक्त अध्यक्ष, मुख्य डिजिटल अधिकारी – अडानी समूह ने कहा

“हम एक सहयोग-संचालित प्लेटफ़ॉर्म बना रहे हैं जहाँ संस्थापक वित्तीय सहायता प्राप्त करते हैं और सफल लिमिटेड भागीदारों के ज्ञान का लाभ उठाते हैं, जो वहाँ रहे हैं और ऐसा किया है,” नीरव जोगानी, उपाध्यक्ष – लेमन कंसल्टेक समूह ने कहा

चिंतन शेठ, सीएफओ – नविका कैपिटल ग्रुप ने कहा, ” एआईएफ (AIF) के लॉन्च के साथ, अल्ट्रा-हाई नेटवर्थ निवेशक अपने दीर्घकालिक इक्विटी पोर्टफोलियो को बढ़ाने के लिए पूरक भारतीय स्टार्टअप के पोर्टफोलियो तक आसानी से पहुँच सकते हैं।”

सीमा फाइनकेम इंडस्ट्री की संस्थापक और प्रबंध निदेशक डॉ. सीमा चौधरी ने कहा, “मैं इनोवेशन और लर्निंग सेंटर खोलने की एआईएफ की पहल का हिस्सा बनकर वाकई बहुत खुश हूं। लाभान्वित फंडर्स की नज़र से देखा जाए तो नतीजे संतोषजनक और उत्साहवर्धक हैं। एआईएफ की पूरी टीम को मेरी शुभकामनाएं।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here