Home बिजनेस आईथिंक लॉजिस्टिक्स का रेवेन्यू 104 करोड़ रुपये बढ़ा

आईथिंक लॉजिस्टिक्स का रेवेन्यू 104 करोड़ रुपये बढ़ा

56
0
Google search engine

मुंबई: मुंबई स्थित इंटीग्रेटेड लॉजिस्टिक्स और सप्लाई चेन सॉल्यूशन आईथिंक लॉजिस्टिक्स ने वित्त वर्ष (फाइनेंशियल ईयर) 2023-24 के शानदार समापन की घोषणा की है। कंपनी ने इस अवधि में 104 करोड़ रुपये का शानदार रेवेन्यू हासिल किया है। इस कमाई का एक बड़ा हिस्सा यानी 94.7% हिस्सा डोमेस्टिक मार्केट से मिला है जो पूरे भारत में कंपनी की मजबूत पहुंच का संकेत है। कंपनी ने खासतौर से देश के पश्चिमी हिस्से से सबसे ज्यादा रेवेन्यू हासिल किया है।

आईथिंक लॉजिस्टिक्स ने अपनी अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति को लगातार बढ़ाना जारी रखा है। इसके लिए उन्‍होंने आगामी वित्त वर्ष के लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किए हैं। दुनिया भर में अपनी मजबूत पहुंच के आधार पर कंपनी अपने अंतरराष्ट्रीय कारोबार से मिलने वाले रेवेन्यू में  8 गुना बढ़ोतरी करने के लिए तैयार है। कंपनी ने अपने अंतरराष्ट्रीय कारोबार से मिलने वाले रेवेन्यू को 4 करोड़ से बढ़ाकर 30 करोड़ रुपए तक पहुंचाने का लक्ष्‍य तय किया है। यह पहल कंपनी के क्रॉस-बॉर्डर लॉजिस्टिक क्षमताओं को मजबूत और बड़ा करने की एक व्यापक रणनीति का हिस्सा है।

आईथिंक लॉजिस्टिक्स की को-फाउंडर ज़ैबा सारंग ने कहा, “पिछले वर्ष के दौरान, हमने उल्लेखनीय ग्रोथ हासिल करने के लिए लगातार अपनी सीमाओं को आगे बढ़ाया है और हमारा इरादा इस गति को जारी रखना है। वित्त वर्ष 2024-25 पर गौर करें तो हमारा फोकस एक शिपिंग इकोसिस्टम बनाने पर है जो न केवल भारत में बल्कि विदेशों में नई लहर पैदा कर सकता है। हम दुनिया भर में लॉजिस्टिक्‍स इंडस्‍ट्री में सटीकता, आसान पहुंच और एक विशाल नेटवर्क बनाने और नए स्‍टैण्‍डर्ड तय करने के लिए समर्पित हैं। फेडएक्स जैसे लॉजिस्टिक्स दिग्गज और ओएनडीसी जैसे भारतीय डिजिटल कॉमर्स लीडर्स के साथ साझेदारी हमारी क्षमताओं को बढ़ाती है और हमें वैश्विक बाजार में खास पहचान देती है।”

अंतरराष्ट्रीय ऑपरेशन को बढ़ाने और लॉजिस्टिक्स सेवाओं के सभी क्षेत्रों में उत्कृष्टता बनाए रखने पर फोकस के साथ, आईथिंक लॉजिस्टिक्स वर्ल्‍डवाइड बेहतर सेवा गुणवत्ता प्रदान करने और मजबूत साझेदारी बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2024-25 में कंपनी के रेवेन्यू में शानदार ग्रोथ देखने को मिलेगी और ये 200 करोड़ रुपये पर पहुंच जाएगी। यह अपनी रणनीतिक विस्तार योजनाओं और कारोबारी दक्षता और कुशलता में कंपनी के विश्वास को दर्शाता है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here