Home ताजा खबर टाटा मोटर्स ने डीलर फाइनेंसिंग के लिए बजाज फाइनेंस के साथ साझेदारी...

टाटा मोटर्स ने डीलर फाइनेंसिंग के लिए बजाज फाइनेंस के साथ साझेदारी की

68
0
Google search engine

मुंबई, मई 2024.

डीलर्स के लिए विकल्पों में सुधार और फाइनेंसिंग (वित्तपोषण) में आसानी के लिए भारत की लीडिंग ऑटोमोटिव निर्माता टाटा मोटर्स की सहायक कंपनियों टाटा मोटर्स पैसेंजर व्हीकल्स (टीएमपीवी) और टाटा पैसेंजर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी (टीपीईएम) ने बजाज फाइनेंस के हाथ मिलाया है। बजाज फाइनेंस भारत की लीडिंग और सबसे डाइवर्सिफाइड वित्तीय सेवा समूहों में से एक बजाज फिनसर्व लिमिटेड का हिस्सा है। इस साझेदारी के चलते टाटा मोटर्स की सहायक कंपनियों को अपने यात्री और इलेक्ट्रिक वाहन डीलरों के लिए सप्लाई चेन फाइनेंस सॉल्यूशन का विस्तार करने में मदद मिलेगी। इस साझेदारी (एमओयू) के माध्यम से इसमें भाग लेने वाली कंपनियां, टीएमपीवी और टीपीईएम के डीलरों को न्यूनतम कोलैटरल के साथ फंडिंग तक पहुंचने में मदद करने के लिए बजाज फाइनेंस की व्यापक पहुंच का लाभ उठाने के लिए एक साथ आएंगी।

इस साझेदारी के लिए समझौता ज्ञापन पर टाटा पैसेंजर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर और टाटा मोटर्स पैसेंजर व्हीकल्स लिमिटेड के डायरेक्टर धीमान गुप्ता और बजाज फाइनेंस लिमिटेड के चीफ बिजनेस ऑफिसर सिद्धार्थ भट्ट ने हस्ताक्षर किए।

इस साझेदारी पर टाटा पैसेंजर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर और टाटा मोटर्स पैसेंजर व्हीकल्स लिमिटेड के डायरेक्टर, धीमान गुप्ता ने कहा कि हमारे डीलर पार्टनर हमारे बिजनेस के अभिन्न अंग हैं, और हम बिजनेस करने में आसानी में उनकी मदद करने की दिशा में सक्रिय रूप से काम करके खुश हैं। साथ मिलकर, हमारा लक्ष्य बाजार को और आगे बढ़ाना है और ग्राहकों के बढ़ते समूह को अपना नया फॉरएवर पोर्टफोलियो पेश करना है। इस आशय से, हम इस फाइनेंसिंग कार्यक्रम के लिए बजाज फाइनेंस के साथ साझेदारी करके उत्साहित हैं, जो बढ़ी हुई वर्किंग कैपिटल (कार्यशील पूंजी) तक हमारे डीलर पार्टनर्स की पहुंच को और मजबूत करेगा।

इस साझेदारी पर बजाज फाइनेंस लिमिटेड के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर अनुप साहा ने कहा कि बजाज फाइनेंस में, हमने हमेशा फाइनेंसिंग के समाधानों के लिए इंडिया स्टैक का उपयोग करके सबसे बेहतर प्रक्रियाएं प्रदान करने का प्रयास किया है, जो व्यक्तियों और बिजनेस दोनों को सशक्त बनाते हैं। इस फाइनेंसिंग कार्यक्रम के माध्यम से, हम टीएमपीवी और टीपीईएम के अधिकृत यात्री और इलेक्ट्रिक वाहन डीलरों को फाइनेंशियल कैपिटल (वित्तीय पूंजी) से लैस करेंगे, जो उन्हें बढ़ते यात्री वाहन बाजार द्वारा पेश किए गए अवसरों का लाभ उठाने में सक्षम बनाएगा। हमें भरोसा है कि इस सहयोग से न सिर्फ डीलर्स को लाभ होगा, बल्कि भारत में ऑटोमोटिव इंडस्ट्री के विकास को आगे ले जाने में भी योगदान मिलेगा।

टीएमपीवी और टीपीईएम, आईसीई (ICE) और ईवी (EV) दोनों क्षेत्रों में अपने बेहतर प्रयासों से भारतीय ऑटोमोटिव बाजार में लीडिंग रहे हैं। कंपनी के सर्वव्यापी न्यू फॉरएवर सिद्धांत ने सेगमेंट के अग्रणी उत्पादों को पेश किया है, जिन्हें बड़े पैमाने पर उपभोक्ताओं द्वारा सराहना मिल रही है।

बजाज फाइनेंस भारत में सबसे ज्यादा डाइवर्सिफाइड एनबीएफसी में से एक है, जो लोन, जमा और भुगतान के क्षेत्र में मौजूद है और 83.64 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवा प्रदान करता है। 31 मार्च, 2024 तक, कंपनी का एसेट अंडर मैनेजमेंट 3,30,615 करोड़ रुपये था।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here