Home बिजनेस गोदरेज इंटीरियो ने कल्याण में लॉन्च किया अपना नया स्टोर

गोदरेज इंटीरियो ने कल्याण में लॉन्च किया अपना नया स्टोर

65
0
Google search engine

देश के पश्चिमी बाजारों में इसकी पहुँच मजबूत बनाएगा 6,000 वर्ग फीट का यह स्टोर

मुंबई, दिव्यराष्ट्र/ गोदरेज एंड बॉयस की अग्रणी होम एवं ऑफिस फर्नीचर बिज़नेस यूनिट, गोदरेज इंटीरियो ने त्रिवेणी ग्रांड, कल्याण में अपना नया फ्रैंचाइज़ी स्टोर खोला है। 6000 वर्गफ़िट में फैला यह स्टोर कल्याण और भारत के पश्चिमी बाजारों में गोदरेज इंटीरियो की रिटेल पहुँच का विस्तार करेगा।

यह स्टोर कल्याण में आधरवाडी के आवासीय डेवलपमेंट एरिया में स्थित है। यहाँ होम स्टोरेज, होम फर्नीचर और मैट्रेस के गुणवत्तापूर्ण उत्पादों का विशेष संग्रह विभिन्न स्टाइल और फिनिशिंग में उपलब्ध है। इस नए स्टोर में यह ब्रैंड ग्राहकों को समर वाइब सेल में होम फर्नीचर पर 35% तक की छूट प्रदान कर रहा है।

कल्याण में इस नए स्टोर के उद्घाटन के बारे में गोदरेज इंटीरियो के सीनियर वाईस प्रेसिडेंट एवं हेड, सेल्स एंड मार्केटिंग (बी2सी), डॉ. देव नारायण सरकार ने कहा, “कल्याण में हमारे इस नए प्रतिष्ठान से आधुनिक घरों में लिविंग स्पेस को प्रीमियम गुणवत्ता, फ़ंक्शनलिटी और एस्थेटिक आकर्षण प्रदान करने की हमारी प्रतिबद्धता प्रदर्शित होती है। हमारे शोरूम्स में ग्राहकों को शॉपिंग का दिलचस्प अनुभव प्राप्त होता है, और उन्हें विभिन्न स्टाइल, डिज़ाइन, और फ़ीचर्स के साथ व्यक्तिगत मार्गदर्शन भी मिलता है। हम ग्राहकों के लिए एक खुशनुमा और प्रेरणाप्रद वातावरण स्थापित करना चाहते हैं, ताकि वो सोच समझकर अपनी पसंद के अनुरूप निर्णय लेने में समर्थ बनें।

यह स्टोर एक महत्वपूर्ण स्थान पर स्थित है, और इसके साथ गोदरेज इंटीरियो की मजबूत एवं बढ़ती ब्रैंड रिकॉल की मदद से हमें उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2025 तक इस स्टोर का राजस्व बढ़कर 400 लाख रुपये तक पहुँच जाएगा। इस नए स्टोर की शुरुआत के साथ गोदरेज इंटीरियो ने पश्चिमी भारत में अपना विस्तार किया है, जहां पहले से ही इसके पास एक बड़ा ग्राहक आधार है। हम वित्त वर्ष 2025 के अंत तक राज्य में 60 अन्य आउटलेट खोलने की योजना पर काम कर रहे हैं, और अगले तीन सालों में 20% वृद्धि करना चाहते हैं। हमें राज्य में अपना राजस्व 150 करोड़ रुपये और पश्चिमी क्षेत्र में 280 करोड़ रुपये तक पहुँचने का भी अनुमान है।

गोदरेज इंटीरियो ने हाल ही में ‘होमस्केप्स’ नाम से एक अध्ययन किया, जिसमें होम और होम डेकोर में ग्राहकों के अद्वितीय व्यक्तित्व और मूल्यों की अभिव्यक्ति प्रदर्शित हुए। इस अध्ययन के अनुसार, आधे से ज्यादा भारतीय ग्राहक (58%) पहली बार स्वतंत्र रूप से अपने द्वारा खरीदे गए फर्नीचर से गहरा भावनात्मक लगाव रखते हैं। साथ ही, 74% उत्तरदाता मानते हैं कि उनके घरों के फर्नीचर, फर्निशिंग और डेकोर न केवल उनके व्यक्तिगत का विकास प्रदर्शित करते हैं, बल्कि उनकी प्रोफेशनल और वित्तीय प्रगति का भी प्रतीक हैं। यह सर्वे देश में 2822 लोगों के बीच किया गया, जिसमें अपने लिविंग स्पेस के साथ लोगों के भावनात्मक और आकांक्षात्मक लगाव के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी मिली।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here