Home बिजनेस विंज़ो ने एफजीवी एएसपी के साथ साझेदारी की

विंज़ो ने एफजीवी एएसपी के साथ साझेदारी की

23
0
Google search engine

— गेम्सकॉम लैटम में पहले इंडिया पवेलियन के लिए 20 भारतीय गेम डेवलपर्स को स्पॉन्सर किया

नई दिल्ली, दिव्यराष्ट्र/ भारत के सबसे बड़े क्षेत्रीय इंटरैक्टिव प्लेटफॉर्म विंजो ने लैटम के अग्रणी शैक्षणिक संस्थान फंडाकाओ गेटुलियो वर्गास (एफजीवी) के साथ महत्‍वपूर्ण साझेदारी करने की घोषणा की है। यह साझेदारी ब्राजील और दूसरे देशों में तेजी से विस्तार करने के लिए अपनी शोध परियोजनाओं को आगे बढ़ाने और स्थानीय प्रतिभाओं को नियुक्त करने के लिए की गई है। यह साझेदारी पिछले साल ब्राजील में प्रोडक्‍ट लॉन्‍च को देखते हुए की गई है जिसने कंपनी को ब्राजील में अपनी टेक्‍नोलॉजी एवं आईपी का फौरन निर्यात करने के लिए 100 से अधिक पार्टनर गेम्‍स को सक्षम किया था। कंपनी का यह कदम एफजीवी के पूर्व और मौजूदा छात्रों के लिए नौकरी के बेहतरीन मौके लाएगा। इससे सुनिश्चित होगा कि विंज़ो स्थानीय बाजार के बारे में जानने वाले सबसे अच्छे लोगों को काम पर रखेगा, ताकि ब्राजील में कंपनी का काम बेहतर ढंग से हो सके और वहां की संस्कृति के साथ तालमेल बिठाया जा सके। इस साझेदारी से ब्राजील में विंज़ो की उपस्थिति और मजबूत होगी, और अपनी मौजूदगी बढ़ाने के लिए लैटम में 50 मिलियन अमेरिकी डॉलर निवेश करने की अपनी योजना पूरी करने में मदद मिलेगी।

एफजीवी- फंडाकाओ गेटुलियो वर्गास में प्रबंधन के प्रोफेसर डॉ. उमेश मुखी ने कहा, ” हम विंज़ो के साथ अपनी साझेदारी को लेकर बहुत खुश हैं। यह साझेदारी एफजीवी के वर्तमान और पूर्व छात्रों को वैश्विक तकनीकी दुनिया का हिस्सा बनने का मौका देगी। इस साझेदारी के ज़रिए विंज़ो न सिर्फ़ हमारे छात्रों के कॅरियर को बेहतर बनाएगा, बल्कि उन्हें उद्योग का अनुभव और बेहतरीन नौकरी के अवसर भी देगा। यह साझेदारी छात्रों की पेशेवर संभावनाओं को मजबूत करने के साथ ही तकनीकी नवाचार और सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ावा देगी, जिससे दुनिया भर के लोगों के बीच संवाद बेहतर होगा।’’

विंज़ो ने लैटिन अमेरिका के एक प्रमुख गेमिंग इवेंट गेम्सकॉम लैटम में भारत सरकार के उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के तहत आने वाले स्टार्टअप इंडिया के साथ साझेदारी में पहला इंडिया पवेलियन भी स्थापित किया है।

इंडिया पवेलियन भारतीय कंटेंट को वैश्विक मंच पर आगे बढ़ने के लिए प्लेटफॉर्म मुहैया कराता है, जिसमें विंज़ो पर उपलब्ध गेम डेवलपर भागीदारों के 100 गेम्स का प्रदर्शन किया जाता है। साथ ही भारतीय डेवलपर्स के 20 अन्य गेम्स का भी प्रदर्शन किया जाता है, जिसमें क्रिकेट, पौराणिक कहानियां, पहेलियां, रेसिंग, भौतिकी आधारित चुनौतियां और शतरंज शामिल हैं। विंज़ो की राष्ट्रीय प्रतियोगिता भारत टेक ट्रायम्फ प्रोग्राम के माध्यम से पहचाने गए इन डेवलपर्स में भारत को दुनिया के गेमिंग क्षेत्र में नेतृत्व की स्थिति में लाने की क्षमता है।

इंडिया पवेलियन का उद्घाटन ब्राजील में भारत के राजदूत सुरेश रेड्डी और साओ पाउलो की संस्कृति, रचनात्मक अर्थव्यवस्था और उद्योग मंत्री सचिव मारिलिया मार्टन ने किया।

विंज़ो का ब्राजील के बाजार में विस्‍तार इसकी वैश्विक विकास रणनीति के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। इसका मतलब है कि भारत अपनी तकनीकी क्षमताओं को दुनिया के सामने पेश कर रहा है। एफजीवी के साथ साझेदारी और गेम्सकॉम में इंडिया पवेलियन में भागीदारी विंज़ो को लैटिन अमेरिका में अपनी पकड़ मजबूत करने में मदद करेगी। इससे भारत और ब्राजील के बीच तकनीकी और व्यापारिक संबंधों को मजबूती मिलेगी।

इंडिया पवेलियन के उद्घाटन के मुख्य अतिथि और ब्राजील में भारत के राजदूत सुरेश के. रेड्डी ने कहा, “भारत और ब्राजील के बीच सहयोग और सतत विकास के साझा मूल्य हमेशा से ही मजबूत रहे हैं। इनसे दोनों देशों के बीच रिश्‍ते और मजबूत हुए हैं। यह मजबूती हमारे व्यापार और निवेश के बढ़ते रिश्तों में भी दिखाई देती है। गेम्सकॉम लैटम में इंडिया पवेलियन की शुरुआत इसी मजबूत रिश्ते का एक हिस्सा है। इसका मकसद खास तौर पर गेमिंग उद्योग में नए-नए आविष्‍कारों, सांस्कृतिक आदान-प्रदान और वैश्विक विस्तार को बढ़ावा देना है। इसके ज़रिए हम भारतीय उद्यमियों और स्टार्टअप्स को जोड़कर सहयोगात्मक विकास और पारस्परिक समृद्धि के भविष्य का निर्माण जारी रखेंगे।’’

साओ पाउलो की संस्कृति, रचनात्मक अर्थव्यवस्था और उद्योग सचिव मारिलिया मार्टन ने कहा, “ब्राजील रचनात्मक अर्थव्यवस्था को बहुत महत्व देता है और ऑनलाइन गेमिंग रचनात्मक अभिव्यक्ति, कल्पना और नवाचार के लिए एक शक्तिशाली उपकरण के रूप में काम करता है। यह कंटेंट के मौद्रीकरण में मदद करता है और हमारी संस्कृति को प्रदर्शित करते हुए हमारे युवाओं की ऊर्जा को सकारात्मक दिशा देता है। ऑनलाइन गेम कम निवेश के साथ वैश्विक स्तर पर मौद्रीकृत किए जा सकते हैं, जो अनंत संभावनाओं से भरा हुआ है। कल्पना कीजिए कि भारतीय शहरों में ब्राजील के त्योहार मनाए जा रहे हैं या गेम्स के माध्यम से भारत और लैटिन अमेरिका के बीच प्राचीन मार्गों को खोजा जा रहा है। भारतीय और ब्राजीलियाई कंपनियों द्वारा एक दूसरे के गेमिंग स्टार्टअप में निवेश करने से हमें एक दूसरे की संस्कृतियों और कार्य नैतिकता के बारे में गहन जानकारी मिलती है। गेम्सकॉम लैटम एक अनूठा अवसर है, इसलिए हमें इसका लाभ उठाना चाहिए।’’

विंज़ो के को-फाउंडर पवन नंदा ने कहा, “एफजीवी ब्राजील के साथ साझेदारी ब्राज़ीलियाई बाजार में विंज़ो की पहुंच मजबूत करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इस साझेदारी के तहत, विंज़ो स्थानीय प्रतिभाओं को काम पर रखेगा और अनुसंधान सहयोग को बढ़ावा देगा। हमारा लक्ष्य न केवल अपनी परिचालन क्षमताओं को मजबूत करना है, बल्कि ब्राज़ीलियाई संस्कृति में भी बेहतर तरीके से घुलना-मिलना है।”

नंदा ने यह भी कहा कि गेम्सकॉम लैटम में इंडिया पवेलियन भारतीय गेम डेवलपर्स की प्रतिभा को वैश्विक मंच पर प्रदर्शित करेगा। यह हमारे तकनीकी कौशल को उजागर करेगा और गेमिंग जैसे उभरते उद्योगों के विकास का समर्थन करेगा। भारत और ब्राजील के बीच रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने से दोनों देशों की डिजिटल अर्थव्यवस्थाओं को बढ़ावा मिलेगा। विंज़ो ब्राज़ीलियाई गेमिंग समुदाय के साथ मजबूत संबंध बनाने और दोनों देशों के लिए फायदेमंद अवसरों का पता लगाने के लिए उत्सुक है।

भारत में, विंज़ो ने साइबर खतरों से इंटरनेट यूजर्स की सुरक्षा के लिए ओपन-सोर्स तकनीक विकसित करने के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान-दिल्ली (आईआईटी-दिल्ली), दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डीटीयू), नेताजी सुभाष प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (एनएसयूटी) और आईआईआईटी-डी के साथ साझेदारी की है। साथ ही विंज़ो ने (स्किल की प्रमुखता और संयोग पर निर्भरता वाले) गेमिंग गतिविधियों के बीच सटीक अंतर करने के लिए वैज्ञानिक विधियों को विकसित करने के उद्देश्य से आईआईटी दिल्ली और आईआईटी मद्रास के प्रोफेसरों के साथ स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी समेत अन्य के साथ साझेदारी की है।

विंज़ो ने अक्टूबर 2023 में ब्राजील में अपना ऐप लॉन्च किया, जिससे उसके 100+ पार्टनर गेम डेवलपर्स को गेम निर्यात करने और 90 मिलियन से अधिक यूजर्स के साथ चौथे सबसे बड़े मोबाइल गेमिंग बाजार ब्राजील तक मुफ्त पहुंच की सुविधा मिली। गेम्सकॉम में इंडिया पवेलियन के शुभारंभ और स्थानीय संस्थानों के साथ सहयोग की बदौलत, कंपनी ने गेम डेवलपर्स के साथ अपने सहयोग को बढ़ाने की योजना बनाई है ताकि दुनिया के सुदूर कोनों में भी अपने गेम्‍स का निर्यात किया जा सके।

विंज़ो के विषय मे*
विंज़ो 2018 में शुरू किया गया भारत का सबसे बड़ा इंटरैक्टिव एंटरटेनमेंट प्‍लेटफॉर्म है। कंपनी अपने ऐप पर गेम होस्ट करने के लिए थर्ड पार्टी डेवलपर्स के साथ साझेदारी करती है, जहां यूजर व्यक्तिगत मल्टीप्लेयर गेमप्ले अनुभवों का आनंद ले सकते हैं। यह प्लेटफॉर्म 200 मिलियन से अधिक पंजीकृत यूजर्स के साथ अंग्रेजी, हिंदी, गुजराती, मराठी, बंगाली और भोजपुरी समेत 13 भाषाओं में उपलब्ध है। विंज़ो प्लेटफॉर्म 100 से अधिक गेमिंग पोर्टफोलियो में प्रति माह 5 बिलियन से अधिक माइक्रो ट्रांजैक्‍शन की सुविधा प्रदान करता है। विंज़ो भारत के टियर 2-5 शहरों में गेमर्स और गेमिंग इंफ्लुएंसर्स का एक उत्साही समुदाय बनाने की दिशा में काम कर रहा है। कंपनी ने एक ऐसे भविष्य की कल्पना की है जहां विंज़ो प्लेटफॉर्म भारतीय गेमिंग इकोसिस्टम में सांस्कृतिक रूप से प्रासंगिक और आनंद से भरपूर अनुभव मुहैया करा सके और साथ ही यूनिक माइक्रो-लेन-देन मॉडल के माध्यम से जिसे मौद्रीकृत किया जा सके। सीरीज-सी फंडेड वेंचर विंज़ो ने ग्रिफिन गेमिंग पार्टनर्स, कोर्टसाइड वेंचर्स और मार्केट फंड जैसे मुख्य गेमिंग और एंटरटेनमेंट निवेशकों से 100 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। इन सभी निवेशकों ने विंज़ो के माध्यम से भारतीय स्टार्ट-अप इकोसिस्टम में अपना पहला निवेश किया है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here