Home ताजा खबर राइज़ एन’ शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड द्वारा आपूर्ति किए गए अपनी तरह...

राइज़ एन’ शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड द्वारा आपूर्ति किए गए अपनी तरह के पहले ब्लू जावा केले के पौधे ने दिए शानदार नतीजे

72
0
Google search engine

राइज़ एन’ शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए ब्लू जावा को विकसित किया है। यह एक खास स्वाद और रंग के साथ केले की नई किस्‍म (वैराईटी) है। व्यावसायिक आधार पर भारत में पहली बार उपलब्ध कराए जाने के कारण इस किस्‍म की पहली फसल आज राइज़ एन शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड की संस्थापक और सीएमडी डॉ. भाग्यश्री पी. पाटिल और तमाम दूसरे गणमान्य व्यक्तियों की सम्मानित उपस्थिति में काटी गई। इस अवसर पर राइज़ एन शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड के फार्म ऑपरेशन मैनेजर श्री अमेय डी पाटिल, मिस इशिता डी. मोहिते पाटिल और श्रीमती राजलक्ष्मी डी पाटिल के साथ-साथ आसपास के गांवों के किसान भी शामिल रहे।

इस कार्यक्रम का आयोजन राइज़ एन शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड से मिले इस खास किस्‍म के केले की शुरुआती फल आने की अवस्‍था और कटाई का जश्‍न मनाने के लिए किया गया। इसकी पहली फसल को सोलापुर जिले के करमाला तालुका में रहने वाले एक इंजीनियर और किसान अभिजीत पाटिल द्वारा 2 एकड़ जमीन पर लगाया गया था। अभिजीत इसके पहले लाल केला, ड्रैगन फ्रूट और सेब जैसे अनोखे फलों की खेती करने के लिए प्रसिद्ध हैं। उनके साथ कई अन्य किसानों ने भी केले की इस किस्म को सफलतापूर्वक उगाया है और जोरदार पैदावार हासिल की है। पुणे स्थित कंपनी ने इन किसानों को इस खेती के लिए मार्गदर्शन प्रदान किया, रोपण से लेकर कटाई तक हर चरण में उनकी सहायता की  जिसका शानदार नतीजा देखने को मिला है।

ब्लू जावा केले पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और स्वास्थ्य के लिए कई तरह से लाभप्रद होते हैं। ये केले मांसपेशियों को मजबूती देने, ब्लड शुगर कम करने, वजन घटाने, अनिद्रा घटाने, पाचन में सहायता करने, कैंसर को रोकने और हृदय की सेहत को सहयोग देने में सहायक होते हैं। केले के इस किस्‍म की उत्पत्ति दक्षिण-पूर्व एशिया में हुई। वनिला आइसक्रीम जैसे स्वाद के कारण इसे वनिला केला के रूप में भी जाना जाता है। ब्लू जावा केले की बाजार में काफी मांग है और देश भर के प्रमुख शहरों और 5-सितारा होटलों में इसे ऊंचे दाम पर बेचा जाता है।

इस अवसर पर राइज़ एन शाइन बायोटेक प्राइवेट लिमिटेड की संस्थापक और सीएमडी डॉ. भाग्यश्री पी. पाटिल ने कहा, “ब्लू जावा केले की पहली सफल फसल देखना एक अग्रणी बायोटेक कंपनी और महाराष्ट्र के नागरिक दोनों ही तौर पर हमारे लिए गर्व और सम्मान का क्षण है। हमारे द्वारा विकसित इस फल की अनूठी विशेषताओं ने देश भर में अच्छी मांग के साथ किसानों और उपभोक्ताओं का ध्यान आकर्षित किया है। मैं इस विकास प्रक्रिया में शामिल पूरी टीम और किसानों को बधाई देती हूं जिन्होंने इस पेशकश पर हम पर भरोसा करके प्रगतिशील निर्णय लिया। हम किसानों को फसल की देखभाल और उसकी वृद्धि में व्यापक मार्गदर्शन के साथ-साथ व्यावसायिक खेती के लिए उच्च उपज वाले पौधे देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here