Home बिजनेस पी एंड जी का नया कैंपेन स्टैंड अप फॉर लर्निंग गैप लांच

पी एंड जी का नया कैंपेन स्टैंड अप फॉर लर्निंग गैप लांच

46
0
Google search engine

मुंबई: पी एंड जी इंडिया के सीएसआर विभाग की एक प्रमुख पहल, पी एंड जी शिक्षा ने एक नया अभियान स्टैंड अप फॉर लर्निंग गैप लॉन्च किया है। नेशनल अचीवमेंट सर्वे द्वारा २०२१ में कराए गए सर्वे के मुताबिक देशभर में 6 करोड़ से ज्यादा बच्चों में शैक्षिक प्रगति की कमी पाई गई है। इन बच्चों की समस्या पर ध्यान देने के उद्देश्य से पीएंडजी शिक्षा ने यह अभियान शुरू किया है। हालाँकि शिक्षा तक पहुंच में काफी सुधार हुआ है, लेकिन गुणवत्तापूर्ण शिक्षा तक पहुंच एक चुनौती बनी हुई है। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से वंचित कई बच्चों को समाज में मजाक या उपहास का सामना करना पड़ता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इस मुद्दे की सार्वजनिक समझ कम है। ऐसी गुणवत्ताहीन शिक्षा का बच्चों पर प्रभाव इस विषय पर एक विचारोत्तेजक सेमिनार का आयोजन अभियान के तहत किया गया।

अभिनेत्री कोंकणा सेन शर्मा ने कहा, “मेरा मानना है कि बच्चों को उनकी पूरी क्षमता उजागर करने के लिए शिक्षा आवश्यक है। पी एंड जी शिक्षा के साथ अपने जुड़ाव के माध्यम से, मैं शैक्षिक अंतर के बारे मेंऔर जागरुकता फेलाने में मदद करना चाहती हूं।

नए विज्ञापन के बारे में बोलते हुए, पी एंड जी इंडिया के ब्रांड संचालन के उपाध्यक्ष और ग्रूमिंग कैटेगरी लीडर अभिषेक देसाई ने कहा, “पिछले 19 वर्षों से, पी एंड जी शिक्षा ने भारत में लाखों वंचित बच्चों को शैक्षिक अवसर प्रदान किए हैं। इससे 45 लाख से ज्यादा बच्चों को फायदा होगा. हमने भारत में 6 करोड़ से अधिक बच्चों को प्रभावित करने वाले शैक्षिक अंतर के बारे में व्यापक जागरूकता पैदा करने की प्रतिबद्धता के साथ इसे मजबूत किया है। यह शैक्षिक अंतर बच्चों में अवसाद का कारण बन सकता है, साथ ही उन्हें समाज में समझ की कमी के कारण उपहास का सामना भी करना पड़ सकता है। हालाँकि, जो बात अक्सर छूट जाती है वह है इसके पीछे का कारण। “अगर आपके बच्चे के साथ ऐसा हो तो क्या आप हंसेंगे?” ऐसा प्रश्न उठाकर, हम माता-पिता, शिक्षकों और शुभचिंतकों को शैक्षिक असमानता के अस्तित्व और परिणामों के बारे में शिक्षित करने का प्रयास कर रहे हैं। हम उन्हें इन कमियों को पहचानने और उन्हें पाटने के लिए कदम उठाने के लिए सशक्त बनाना चाहते हैं। हम सभी टैगलाइन स्टैंड अप फॉर लर्निंग गैप पर एक साथ आ सकते हैं। समय पर कार्रवाई से बच्चे के उज्जवल भविष्य के लिए शिक्षा का लाभ उठाने की पूरी क्षमता सामने आ सकती है।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here