Home बिजनेस मैक्स लाइफ ने 99.65% का डेथ क्लेम रेश्यो प्राप्त किया

मैक्स लाइफ ने 99.65% का डेथ क्लेम रेश्यो प्राप्त किया

40
0
Google search engine

दिव्यराष्ट्र, नई दिल्ली: मैक्स लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (“Max Life/ “Company) ने आज वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान 1254.39 करोड़ रुपये के 19,569 इंडीविजुअल डेथ क्लेम्स के सेटलमेंट की घोषणा की। इसी के साथ कंपनी ने 99.65 प्रतिशत का इंडीविजुअल डेथ क्लेम रेश्यो प्राप्त किया है, जो अब तक का सर्वाधिक रेश्यो है। पिछले पांच वर्षों में मैक्स लाइफ का क्लेम्स पेड रेश्यो वित्त वर्ष 2019-20 के 99.22 प्रतिशत से बढ़कर वित्त वर्ष 2023-24 में 99.65 प्रतिशत पर पहुंच गया। इसी के साथ यह आंकड़ा कंपनी के लिए नया ‘इंडिया के भरोसे का नंबर*बनकर सामने आया है।

अपनी शुरुआत से अब तक मैक्स लाइफ इंश्योरेंस ने कुल 202,830 पॉलिसियों पर डेथ क्लेम के तौर पर 8,679 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। यथासंभव जल्दी से जल्दी क्लेम प्रोसेस करने की प्रतिबद्धता के साथ मैक्स लाइफ ने नॉन-अर्ली क्लेम (तीन साल से पुरानी पॉलिसियों पर किए गए क्लेम) में से करीब 48 प्रतिशत क्लेम को एक ही दिन में सेटल कर दिया। फ्रॉड की पहचान, हाई रिस्क स्थानों को चिह्नित करने और नॉन डिस्क्लोजर के आधार पर झूठे क्लेम की आशंका का आकलन करने के लिए मैक्स लाइफ इंटेलीजेंट सिस्टम का प्रयोग करती है। इसी के दम पर मैक्स लाइफ का क्लेम्स पेड रेश्यो वित्त वर्ष 2022-23 के 99.51 प्रतिशत से बढ़कर वित्त वर्ष 2023-24 में 99.65 प्रतिशत पर पहुंच गया।

मैक्स लाइफ सीईओ एवं मैनेजिंग डायरेक्टर प्रशांत त्रिपाठी ने कहा“मैक्स लाइफ में हम जो भी करते हैं, ग्राहक उसके केंद्र में रहतेहैं। इसी के दम पर हम हर दिन अपने ग्राहकों को सुप्रीम वैल्यू एवं भरोसा देने में सक्षम हुए हैं। हमारे लिएअब तक का सर्वोच्च क्लेम्स पेड रेश्यो केवल एक आंकड़ा नहीं है, बल्कि यह ग्राहकों को प्राथमिकता पर रखने की हमारी अथक प्रतिबद्धता का प्रमाण भी है। एडवांस्ड डिजिटाइजेशन और इंटेलीजेंट सिस्टम के माध्यम से हम सक्रियता से फ्रॉड से लड़रहे हैं, हाई रिस्क वाले क्षेत्रों को सटीक तरीके से चिह्नित कर रहे हैं और बिलकुल सटीक तरीके से क्लेम की वैधता का आकलन कर रहे हैं। इस व्यापक प्रकिया से सुनिश्चित होता है कि हम न केवल जरूरत के समय अपने ग्राहकों का साथ देते हैं, बल्कि हर कदम पर उन्हें भरोसे और सुरक्षा के साथ सशक्त भी कर रहे हैं।”

कंपनी ग्राहकों को ध्यान में रखकर काम करती है, इसीलिए मैक्स लाइफ ने पूर्वानुमानित विश्लेषण-आधारित अंडरराइटिंग मॉडल और जालसाजी रोकने के मजबूत तरीके अपनाए हैं, साथ ही फोरेंसिक नियंत्रण को डिजिटल बनाकर और मजबूत बनाया है। ग्राहकों की संतुष्टि को लेकर मैक्स लाइफ की प्रतिबद्धता को हाल ही में हंसा रिसर्च ने भी पहचाना है। हंसा रिसर्च की तरफ से कंपनी को अप्रैल, 2024 में प्रतिष्ठित इंश्योरेंस सीयूईएस रिपोर्ट के चौथे संस्करण में भारत की अग्रणी इंश्योरेंस कंपनियों में दूसरी रैंकिंग मिली है। कंपनी को प्रोडक्ट इनोवेशन, डिजिटल सपोर्ट, बेहतरीन डॉक्यूमेंटेशन प्रक्रिया और इफिशिएंट पॉलिसी इश्यूएंस के लिए यह रैंकिंग प्रदान की गई है। ग्राहकों को लंबे समय तक स्वयं से जोड़े रखने (कस्टमर रिटेंशन) पर फोकस करते हुए वित्त वर्ष 2023-24 में मैक्स लाइफ की 13वें महीने की परसिस्टेंसी 86.6 प्रतिशत (प्रीमियम) और 61वें महीने की परसिस्टेंसी 58.3 प्रतिशत (संचयी, प्रीमियम) रही।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here