Home बिजनेस डॉलर इंडस्ट्रीज दक्षिण भारत के बाजार को लेकर उत्साहित

डॉलर इंडस्ट्रीज दक्षिण भारत के बाजार को लेकर उत्साहित

27
0
Google search engine

दिव्यराष्ट्र, जयपुर: डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेडजो भारत में लाइफस्टाइल आउटरवियर और इनरवियर व्यवसाय में सबसे भरोसेमंद नामों में से एक हैने दक्षिण भारतीय बाजारों के लिए अपना विजन साझा किया। एक बड़े कदम के रूप मेंडॉलर इंडस्ट्रीज ने सुपरस्टारश्री महेश बाबू को दक्षिण भारत के लिए अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया है।

डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेडजिसने 1972 में दूरदर्शी श्री दीन दयाल गुप्ता के कुशल नेतृत्व में भवानी टेक्सटाइल्स के रूप में अपनी यात्रा शुरू कीअब भारत में ब्रांडेड होजरी सेगमेंट के 15% बाजार हिस्से पर उसका कब्जा है और समूह सालदरसाल आधार पर 11% – 12% की वृद्धि का लक्ष्य बना रहा है। अपने विजन साउथ इंडिया रणनीति के एक हिस्से के रूप मेंडॉलर इंडस्ट्रीज चालू वर्ष की तुलना में दक्षिणी बाजार से बिक्री में लगभग 50% वृद्धि का लक्ष्य बना रही है।

हमें दक्षिण के बाजारों से अपने उत्पादों के लिए अच्छी प्रतिक्रिया मिली है और उपभोक्ताओं ने डॉलर से सस्ती कीमतों पर गुणवत्ता वाले उत्पादों को स्वीकार किया है। यहां की स्वीकृति इन बाजारों में हमारी बिक्री वृद्धि से स्पष्ट है। हमारी घरेलू बिक्री हाल ही में इन बाजारों में बढ़ी है और लगभग 8% हैमहेश बाबू के दक्षिण के बाजार के लिए ब्रांड एंबेसडर बनने से हमारे ब्रांड को आगे रखने में यह कैटालिस्ट की भूमिका निभायेगा और बिक्री भी खासी बढ़ेगी। हम बेहद उत्साहित हैं और दक्षिण बाजार से अपने घरेलू राजस्व का लगभग 20% प्राप्त करने का लक्ष्य बना रहे हैं”डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री विनोद कुमार गुप्ता ने कहा।

डॉलर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के संयुक्त प्रबंध निदेशक श्री विनय कुमार गुप्ता ने कहा डॉलर इंडस्ट्रीज को मजबूत मांग और हमारे पोर्टफोलियो में उच्च मार्जिन वाले उत्पादों का बढ़ता अनुपात देखने को मिल रहा है। यह सकारात्मक रुझान हमें निकट भविष्य में अपनी वांछित टॉपलाइन और बॉटमलाइन वृद्धि हासिल करने के लिए अच्छी स्थिति में रखेगा। हमारी योजना आने वाले वर्षों में दक्षिण बाजार में 50 एक्सक्लूसिव ब्रांड आउटलेट खोलने की भी हैजहां उपभोक्ता डॉलर उत्पादों की पूरी रेंज का अनुभव कर सकेंगे ।

तिरुपुर अपनी आर्थिक और वित्तीय व्यवहार्यता के कारण होजरी उद्योग का केंद्र हैइसलिए तिरुपुर में हमारा उत्पादन तंत्र है और पिछले कुछ वर्षों में कारोबार बढ़ा है। हमारे पास दक्षिणी बाजार में हमारे साथ जुड़े कई डीलर हैं जो उत्पादों की बिक्री और वितरण के मामले में कंपनी के लिए बहुत बड़ा सहयोग हैं। हाल ही में हमने दक्षिण बाजार में अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए अपनी प्रमुख पहलप्रोजेक्ट लक्ष्य की शुरुआत की है। पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत वर्ष 2019 में कर्नाटक में की गई थी। प्रतिक्रिया इतनी प्रभावशाली थी कि हमने चरणबद्ध तरीके से पूरे भारत में इसी मॉडल को दोहराने का फैसला किया”श्री विनोद कुमार गुप्ता ने कहा।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here