Home हेल्थ संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 1100 यूनिट रक्त...

संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 1100 यूनिट रक्त एकत्र हुआ

76
0
Google search engine

संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन (एसजेएफ) ने एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के साथ साझेदारी के तहत गुरुवार को दिल्ली, पुणे, मुंबई, नागपुर, मोहाली, इंदौर,जयपुर, उदयपुर और अहमदाबाद सहित कई शहरों में एक मेगा रक्तदान शिविर का सफलतापूर्वक आयोजन किया। रक्तदान शिविर एक बार फिर संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन और एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक द्वारा सार्थक योगदान देकर समाज को वापस देने और रक्तदान के माध्यम से जीवन बचाने में दयालुता और सामुदायिक भागीदारी को प्रेरित करने की साझा प्रतिबद्धता का उदाहरण है।

पिछले 2 साल के अभियानों की सफलता की गति को जारी रखते हुए, इस साल के रक्तदान शिविर में लोगों की भारी उपस्थिति के साथ उम्मीदों से बेहतर प्रदर्शन हुआ। इस बार 1100 से ज्यादा लोगो ने रक्तदान शिविर में भाग लिया। एसजेएफ के संयुक्त प्रयासों के माध्यम से, इन शिविर को अलग अलग बैकग्राउंड (पृष्ठभूमियों) का प्रतिनिधित्व करने वाले लोगों भारी समर्थन मिला, जिसमें एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के कर्मचारी, उनके दोस्त, परिवार और ग्राहक शामिल थे।

चूंकि राजस्थान अभियान का केंद्र था, इसलिए शहर में कई स्थानों पर रक्तदान केंद्र स्थापित किए, जिनमें एयू बैंक – जगतपुरा कार्यालय, आतिश मार्केट में एयू केंद्रीय कार्यालय, टोंक रोड पर एयू क्षेत्रीय कार्यालय, एयू बैंक शाहपुरा, एयू बैंक हाउस गोपालबाड़ी और एयू बैंक उदयपुर कार्यालय शामिल हैं। यह अभियान रेड क्रॉस सोसाइटी और श्री श्याम महोत्सव सेवा समिति की साझेदारी में किया गया। इस पहल का उद्देश्य न सिर्फ  रक्तदान को सुविधाजनक बनाना है बल्कि जीवन बचाने में स्वैच्छिक रक्तदान के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना भी है। फाउंडेशन ने रक्तदाताओं को ‘हेलमेट’ देकर रक्तदान अभियान में बड़ी भागीदारी को प्रोत्साहित किया, जिससे सड़क सुरक्षा और ड्राइविंग जागरूकता की भी वकालत की गई।

यह कार्यक्रम संजय एंड ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन के को-फाउंडर और एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक के फाउंडर और एमडी व सीईओ संजय अग्रवाल के 54वें जन्मदिन का जश्न मनाने के लिए आयोजित किया गया था। इस अवसर पर एक वृक्षारोपण अभियान भी देखा गया, जिसके तहत जयपुर में 54 पेड़ लगाए गए। वृक्षारोपण अभियान में पर्यावरणीय स्थिरता के महत्व पर जोर दिया गया। इसके अलावा, इस अभियान में अंग दान के महत्व को बताया गया, साथ ही इसमें शामिल लोगों ने इस नेक काम में अपना समर्थन देने का वादा किया। इसके अलावा, कार्यक्रम के वॉलंटियर्स (स्वयंसेवकों) ने अनाथालय घरों का दौरा किया और समुदाय के भीतर खुशहाली और करुणा फैलाई।

इस अवसर पर संजय और ज्योति अग्रवाल फाउंडेशन (एसजेएफ) की फाउंडर ट्रस्‍टी, ज्योति अग्रवाल ने इस अभियान में हिस्सा लेने वाले सभी प्रतिभागियों को उनके अटूट समर्थन और प्रतिबद्धता के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि, “आपकी निस्वार्थ उदारता ने न सिर्फ हमारे दिलों को कृतज्ञता से भर दिया है, बल्कि भारी संख्या में  लोगों के जीवन को उम्‍मीद की किरण से रोशन कर दिया है। हमारे समुदाय में करुणा की किरण बनने के लिए धन्यवाद।” उन्होंने जीवन बचाने में रक्तदान की महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया और परोपकार और सामाजिक जिम्मेदारी की संस्कृति को बढ़ावा देने में सामुदायिक भागीदारी के महत्व के बारे में बताया।

इस साल के अभियान को मिली जबरदस्त प्रतिक्रिया करुणा और एकजुटता की सामूहिक शक्ति का प्रमाण है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here