Home न्यूज़ Social शाओमी इंडिया को भारत में 10 साल पूरे हुए; युवराज सिंह फाउंडेशन...

शाओमी इंडिया को भारत में 10 साल पूरे हुए; युवराज सिंह फाउंडेशन के साथ स्तन कैंसर जाँच अभियान शुरू किया

31
0
Google search engine

नई दिल्ली – भारत में इनोवेशन और सामुदायिक कल्याण में योगदान देते हुए दस साल पूरे करने के अवसर पर ग्लोबल टेक्नोलॉजी लीडर, शाओमी इंडिया ने क्रिकेटर और कैंसर सर्वाईवर, युवराज सिंह द्वारा स्थापित एक नॉन-प्रॉफिट संगठन, युवराज सिंह फाउंडेशन (यूवीकैन) के साथ एक ऐतिहासिक साझेदारी की घोषणा की। इसके अंतर्गत ‘स्वस्थ महिला, स्वस्थ भारत’ प्रोजेक्ट द्वारा वंचित और संसाधनों की कमी वाली महिलाओं पर केंद्रित रहते हुए 15 राज्यों में 12 महीनों के दौरान स्तन कैंसर से पीड़ित 1,50,000 महिलाओं की जाँच की जाएगी। यह अभियान भारत में प्रभाव और पहुँच के मामले में शाओमी का अब तक का सबसे विशाल प्रयास है।

शाओमी इंडिया के प्रेसिडेंट, मुरलीकृष्णन बी ने कहा, ‘‘भारत में हमारे एक दशक के सफर में हम सामाजिक परिवर्तन लाने के लिए अपने विस्तृत नेटवर्क का उपयोग कर एक टेक्नोलॉजी ब्रांड के मुकाबले काफी आगे तक विकास कर गए हैं। कड़वी सच्चाई यह है कि भारत में स्तन कैंसर के कारण हर 6 मिनट में एक महिला की मौत होती है, जिनमें से 70 प्रतिशत मामलों में निदान जाँच की कमी के कारण काफी एडवांस्ड स्टेज में होता है। इससे प्रदर्शित होता है कि हमारा यह मिशन कितना महत्वपूर्ण है। हमें युवराज सिंह फाउंडेशन (यूवीकैन) के साथ मिलकर काम करने पर गर्व है। हम मिलकर व्यापक परिवर्तन लाने के लिए अपनी टेक्नोलॉजिकल विशेषज्ञता का उपयोग करेंगे। हम साथ में स्तन कैंसर से जुड़े कलंक को तोड़ना, जागरुकता बढ़ाना, और इसकी तुरंत पहचान संभव बनाना चाहते हैं, ताकि अनेकों जानों को बचाया जा सके। यह अभियान भारत के लिए हमारी प्रतिबद्धता के अंतर्गत है, जो स्वास्थ्य की गंभीर चुनौतियों को संबोधित करने और स्थायी सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए इनोवेशन से बढ़कर है।’’

युवराज सिंह, पूर्व क्रिकेटर और संस्थापक, युवराज सिंह फाउंडेशन (यूवीकैन) ने कहा, ‘‘स्वस्थ महिला स्वस्थ भारत अभियान भारत में स्तन कैंसर के खिलाफ हमारी लड़ाई में एक महत्वपूर्ण कदम है। ग्रामीण इलाकों में जागरुकता और स्क्रीनिंग की उपलब्धता सीमित होने के बाद भी हम परिवर्तन लाने के लिए दृढ़निश्चित हैं।15 राज्यों में 1.5 लाख महिलाओं तक पहुँचने के हमारे प्रयासों को बढ़ाने में शाओमी इंडिया के सहयोग की एक अहम भूमिका है। उनकी प्रतिबद्धता सराहनीय है। हम मिलकर न केवल स्तन कैंसर की स्क्रीनिंग कर रहे हैं, बल्कि महिलाओं को स्तन कैंसर की जागरुकता और तुरंत इसकी पहचान करने के लिए टूल्स भी प्रदान कर रहे हैं। हम इस अभियान में सहयोग देने के लिए शाओमी के आभारी हैं।’’

‘‘स्वस्थ महिला स्वस्थ भारत’’ इस अभियान का उद्देश्य स्तन कैंसर की जाँच उपलब्ध कराना, इसके जोखिमों व स्व-परीक्षण की तकनीकों की जागरुकता बढ़ाना और समय पर इसकी पहचान एवं इलाज सुनिश्चित करना है। यह यूएन सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स के अनुरूप है और स्वास्थ्य एवं लैंगिक समानता पर बल देता है।

इस प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन शाओमी इंडिया और युवराज सिंह फाउंडेशन (यूवीकैन) द्वारा गठबंधन में मौजूदा हैल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर का उपयोग करके जमीनी स्तर पर काम करने वाले संगठनों के सहयोग से किया जाएगा।

इस कार्यक्रम के मुख्य पहलू हैंः

  • किफायती, भरोसेमंद टेक्नोलॉजी की मदद से सामुदायिक जाँच मॉडल।
  • सरकारी स्कूलों और आंगनवाडियों जैसे सुरक्षित और आसान पहुँच वाले स्थानों पर जाँच।
  • स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी), सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) और सरकारी जिला अस्पतालों के साथ साझेदारियाँ।
  • मरीजों को विस्तृत सहयोग, जिसमें शिक्षा, काउंसलिंग और हैल्थकेयर सिस्टम नैविगेशन शामिल है।

शाओमी की सीएसआर की अवधारणा के अंतर्गत कंपनी एक गणमान्य कॉर्पोरेट नागरिक के रूप में टेक्नोलॉजी द्वारा लोगों के जीवन में सुधार लाना चाहती है। शाओमी उत्पादों, उपयोगकर्ताओं, पर्यावरण, और समाज पर केंद्रित है, और इनोवेटिव टेक्नोलॉजी एवं समावेशी व्यवसायिक विधियों द्वारा सस्टेनेबल विकास का प्रयास करती है। ‘स्वस्थ महिला, स्वस्थ भारत’ प्रोजेक्ट शिक्षा, हैल्थकेयर, पर्यावरण की सुरक्षा, आपातकालीन राहत, और डिजिटल सशक्तिकरण में शाओमी भारत के विस्तृत प्रयास का हिस्सा है। भारत में एक दशक पूरा करने के अवसर पर शाओमी साझा मूल्य और सकारात्मक सामाजिक परिवर्तन लाने की अपनी प्रतिबद्धता प्रदर्शित कर रहा है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here