Home एजुकेशन थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी का एनवीडिया से एमओयू हुआ

थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी का एनवीडिया से एमओयू हुआ

38
0
Google search engine

दिव्यराष्ट्र, दिल्ली: थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (टीआईइटी) ने एनवीडिया (एनवीडिया) के साथ एक एमओयू साईन करने की घोषणा की, जिसके तहत एनवीडिया (एनवीडिया) एआई यूनिवर्सिटी प्रोग्राम के तकनीकी सहयोग से थापर स्कूल ऑफ एडवांस्ड एआई एंड डेटा साइंस (टीएसऐएआई) की स्थापना की जाएगी।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) दुनिया भर के उद्योगों में क्रांतिकारी बदलाव ला रही है, इनोवेशन को बढ़ावा दे रही है, शिक्षा के भविष्य को नया रूप दे रही है और जीवन को बदल रही है। टीआईइटी और एनवीडिया के बीच एमओयू के तहत, थापर स्कूल ऑफ एडवांस्ड एआई एंड डेटा साइंस की स्थापना टीआईइटी के पटियाला कैंपस में की जाएगी। इस इनोवेटिव इनिशिएटिव का उद्देश्य छात्रों और संकाय दोनों को एआई कौशल और ज्ञान से सशक्त बनाने के लिए कॉम्प्रेहेंसिव एकेडमिक प्रोग्राम, रिसर्च ओपोर्चुनिटी और इनोवेशन प्रोजेक्ट प्रदान करना है।

थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के निदेशक डॉ. पद्मकुमार नायर ने कहा, “हम एनवीडिया के तकनीकी सहयोग से इस एआई स्कूल की स्थापना करने के अवसर को लेकर उत्साहित हैं। यह कार्य न केवल एआई विशेषज्ञता में अंतर को पाटेगा बल्कि इस परिवर्तनकारी क्षेत्र में अत्याधुनिक अनुसंधान और नवाचार का मार्ग भी प्रशस्त करेगा। यह हमारे दृष्टिकोण को और भी सुदृढ करता है जो भविष्य के लिए तैयार छात्रों को शिक्षा प्रदान करने का है।”

एनवीडिया के एशिया साउथ के प्रबंध निदेशक विशाल धूपर ने कहा, “ग्लोबल एआई एजुकेशन इनिशिएटिव में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में, थापर इंस्टीट्यूट पूरे भारत में एआई विशेषज्ञों की एक नई पीढ़ी को तैयार करने के लिए अत्याधुनिक एनवीडिया तकनीकों को एक साथ लेकर आएगा। नया एआई स्कूल एआई विशेषज्ञता में अंतर को पाटने में मदद करेगा और उद्योग में शानदार रिसर्च और इनोवेशन का रास्ता मजबूत करेगा।”

टीआईइटी जेनरेटिव एआईके विकास और तैनाती के लिए एनवीडिया DGX सिस्टम, एनवीडिया H100 टेंसर कोर जीपीयूs, एनवीडिया A100 टेंसर कोर जीपीयू और एनवीडिया एआईएंटरप्राइज सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म का लाभ उठाते हुए अत्याधुनिक एआई इन्फ्रास्ट्रक्चर स्थापित करेगा। यह समर्पित डेटा केंद्र लगभग 8 टेराबाइट जीपीयू मेमोरी के साथ 227 पेटाफ्लॉप्स एआईप्रदर्शन प्रदान करेगा।

थापर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी भारत के सबसे पुराने और बेहतरीन शैक्षणिक संस्थानों में से एक है, जिसकी स्थापना 1956 में हुई थी। यह पटियाला में 250 एकड़ में फैले हरे-भरे परिसर का गौरव रखता है, जबकि मैनेजमेंट स्कूल चंडीगढ़ के पास 28 एकड़ के परिसर में स्थित है। टीआईइटी इंजीनियरिंग, बुनियादी विज्ञान, मानविकी, प्रबंधन और उदार कला और विज्ञान में वैश्विक शैक्षणिक मानकों के अनुरूप स्नातक, स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट कार्यक्रम प्रदान करता है।”

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here