Home न्यूज़ शक्ति पंप्स ने हासिल किया रेवेन्यू और प्रॉफिट

शक्ति पंप्स ने हासिल किया रेवेन्यू और प्रॉफिट

62
0
Google search engine

पीथमपुर: सोलर स्टेनलेसस्टील सबमर्सिबल पंपप्रेशर बूस्टर पंपपंपमोटर्सकंट्रोलर और इनवर्टर सहित अन्य उत्पादों के  अग्रणी निर्माता शक्ति पंप्स (इंडिया) लिमिटेड ने 31 मार्च 2024 को समाप्त तिमाही और वित्तीय वर्ष के अपने वित्तीय परिणामों की घोषणा की।

शक्ति पंप्स (इंडियालिमिटेड के चेयरमैन दिनेश पाटीदार ने कंपनी के प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि, “वित्तीय वर्ष 24  शक्ति पंप्स (इंडियालिमिटेड के लिए एक उल्लेखनीय वर्ष रहा हैक्योंकि कंपनी ने रेवेन्यू और प्रॉफिट के मामले में अब तक का मजबूत प्रदर्शन किया है। यह हमारी गवर्नमेंट और एक्सपोर्ट बिजनेस दोनों में हमारे उत्कृष्ट प्रदर्शन को बताता हैजिसने वित्तीय वर्ष 24 में क्रमशः 52% और 23% की रेवेन्यू में ग्रोथ दर्ज की है।

हमारी प्रभावशाली ऑर्डर बुकराशि 2,400 करोड़ रुपये,  31 मार्च 2024 तक हाल ही में 250.62 करोड़ रुपये के तीन नए ऑर्डर के साथ जनवरी 2024 की शुरुआत से हरियाणा और महाराष्ट्र में विस्तारित हुआ है। शक्ति पंप्स (इंडियालिमिटेड अपने ऑर्डर बुक के निरंतर विस्तार के बारे में आशावादी हैजो कृषक समुदाय के बीच सोलर पंपों को बढ़ाने के लिए लगातार प्रयासरत है।

तिमाही के दौरान कंपनी ने सफलतापूर्वक 200 करोड़ रुपये क्यूआईपी के माध्यम दो प्रमुख म्यूचुअल फंडों से प्राप्त किये है। इन राशियों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा पंप/मोटर्सइनवर्टर/वीएफडी और सहायक स्ट्रक्चर की उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाएगा।

रिसर्च और डेवलपमेंट के प्रति हमारा अटूट समर्पण हैक्योंकि हम खुद को एक इनोवेशन केंद्रित इंटरप्राइजेज के रूप में परिभाषित करने का प्रयास करते हैं। यह प्रतिबद्धता हमारे द्वारा हाल ही में हासिल किए गए दो अतिरिक्त पेटेंटों से प्रमाणित होती हैजिसमें फाइल किए गए 29 में से हमें कुल 13 पेटेंट प्राप्त हो गए हैं। सोलर पीएम कुसुम योजना के नेतृत्व में पंप उद्योग, 14 लाख से अधिक ऑफग्रिड और 35 लाख से अधिक ऑनग्रिड सोलर पंपों की अनुमानित स्थापना डिमांड के साथ डेवेलपमेंट के लिए तैयार है। विभिन्न राज्यों में बड़ी संख्या में ऐसे किसान हैं जिन्होंने अपने खेतों की सिंचाई के लिए बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन किया है। जिसमे डिस्कॉम को बेसिक स्ट्रक्चर उपलब्ध कराने में कॉस्ट शामिल होती हैसाथ ही बिजली कम रियायती दरों पर उपलब्ध करानी होती हैजो डिस्कॉम की वित्तीय स्थिति पर और अधिक बोझ डालती है। इसके बावजूदकई किसान बिजली कनेक्शन से वंचित रह जाते हैं और उनकी जरूरतें पूरी नहीं होती हैं। राज्य और केंद्रीय योजनाओं के माध्यम से 60-70% कॉस्ट को कम करने के साथसब्सिडी वाले सोलर पंपों के बदलाव सेसरकार को एक सॉल्यूशन प्राप्त होगा। यह पहल केवल 2-3 वर्षों में किसानों को विश्वसनीय बिजली प्रदान करते हुएस्थिरता की ओर ले जाते हुएबचत के साथ सब्सिडी को संतुलित करती है। रणनीतिक रूप से मजबूतशक्ति पंप्स (इंडिया) लिमिटेड निरंतर विकास के लिए तैयार हैऑर्डर में अनुमानित वृद्धि का लाभ उठाने और संभावित अवसरों के लिए खुद को उपयुक्त स्थिति में लाने के लिए तैयार है। इन उत्साहवर्धक विकासों के साथहम भविष्य में अपने सभी शेयरहोल्डरों के लिए लगातार मजबूत परिणाम देने की अपनी क्षमता में विश्वास रखते हैं।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here