Home कला/संस्कृति जियोमार्ट ने झारखंड के कारीगरों को सशक्त बनाने के लिए जसकोलैम्प्फ और...

जियोमार्ट ने झारखंड के कारीगरों को सशक्त बनाने के लिए जसकोलैम्प्फ और झारक्राफ्ट के साथ की साझेदारी

31
0
Google search engine

मुंबई: दिव्यराष्ट्र/ रिलायंस रिटेल की ई-मार्केटप्लेस शाखा जियोमार्ट ने झारखंड के सरकारी एम्पोरियम ‘जसकोलैम्प्फ’ और झारखंड सरकार के उपक्रम ‘झारक्राफ्ट’ के साथ मिलकर छोटे विक्रेताओं, कारीगरों और बुनकरों को सशक्त बनाने की घोषणा की है। इस साझेदारी से गुमला, सरायकेला, पलामू समेत झारखंड के कई कारीगर जियोमार्ट पर अपने उत्पाद बेच सकेंगे।

इस पहल से झारखंड के 10 हजार से अधिक कारीगरों और बुनकरों के जुड़ने की उम्मीद है। जियोमार्ट के ग्राहक अब लकड़ी के उत्पाद, बांस के उत्पाद, ढोकरा कलाकृतियाँ, टेराकोटा आइटम, लाख की चूड़ियाँ, कॉटन हैंडलूम, एप्लिक वर्क, जरदोजी वर्क, तसर हैंडलूम साड़ियाँ, पुरुषों की शर्ट, बिना सिले ड्रेस मटीरियल, हाथ से बने बैग, बेडशीट, पेंटिंग और होम डेकोर उत्पाद खरीद सकेंगे।

जसकोलैम्प्फ के प्रबंध निदेशक राकेश कुमार सिंह ने बताया कि यह सहयोग झारखंड के कारीगरों और बुनकरों को आगे बढ़ाएगा। झारक्राफ्ट के उप महाप्रबंधक अश्विनी सहाय ने कहा, “हम जियोमार्ट पर झारखंड के शिल्प को लॉन्च करने पर उत्साहित हैं।” जियोमार्ट अब तक 20 हजार से अधिक कारीगरों और बुनकरों को सशक्त कर चुका है और 10 राज्य सरकारों के एम्पोरियम के 3 लाख से अधिक उत्पाद बेचता है।

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here